Shayari 2019

Wednesday 18th of September 2019

hindi shayari 2019 | 2019 हिंदी शायरी | Shayari 2019 | 2019 Shayari | 2019 Ki Shayari | 2019 shayari | 2019 शायरी

us dard se bhi shero shayari

us dard se bhi

चाहत है चाहत को पाने की
चाहत है चाहत को आजमाने की
चाहत है कि तू हमें चाहे
वरना चाहत है इस चाहत में मर जाने की

nikhar jane do

nikhar jane do

देख लेना मेरी ग़ज़लों मे शबाहत अपनी
शायरी को मेरी कुछ और निख़र जाने दो
खूबसूरत सा कोई नाम फिर अता करना
पहले दिवानगी को हद से गुज़र जाने दो...

aaya ye khayal

Tere Hath chai

Wah sare jahan ki khushiya wah tere hath ki chai

adab se mere sath

adab se mere sath

हर इक ग़म बैठा रहता है अदब से मेरे आगे

लगा रहता है दिल में रोज़ ही दरबार मेरा

suraj hoon zindagi ki

suraj hoon zindagi ki

सूरज हूँ ज़िंदगी की रमक़ छोड़ जाऊँगा

मैं डूब भी गया तो शफ़क़ छोड़ जाऊँगा

chen se rahne naa diya

chen se rahne naa diya

दिल की चोटों ने कभी चैन से रहने न दिया

जब चली सर्द हवा मैंने तुझे याद किया

mohabbat ke liye

Yadi aap mere pas aakar

Yadi aap mere pas aakar

koi bada nahi hota

koi bada nahi hota

छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता 

टूटे मन से कोई खड़ा नहीं होता 

aao fir se diya jalaye

aao fir se diya jalaye

सूरज परछाई से हारा अंतरतम का नेह निचोड़ें-

बुझी हुई बाती सुलगाएँ। आओ फिर से दिया जलाएं

darindo ke shahar me

darindo ke shahar me

मेरी तिजारत में रुकावट है मेरा इंसान होना.

दरिंदों के शहर में लाज़िम है परेशान होना