www.poetrytadka.com

शानदार शायरी

Last Updated

Ab hum

Ab hum
अब हम इश्क के उस मुक़ाम पर आ चुके हैं.
जहां दिल किसी और को चाहे भी तो गुनाह होता है

ab ham ishq ke us muqaam par aa chuke hain.
jahaan dil kisi aur ko chaahe bhi to gunaah hota hai
शानदार शायरी, Shandar Shayari

Baat shayari

Baat shayari
बात वफाओँ की होती तो कभी ना हारते हम
खेल नसीबोँ का था भला उसे कैसे हराते

baat wfaao kee hoti to kabhi na haarate ham
khel naseebon ka tha bhala use kaise haraate

Bahte pani si shandar shayari

Bahte pani si shandar shayari
तू बहते पानी सी है…. हर शक्ल में ढल जाती है,
मैं रेत सा हूँ… मुझसे कच्चे घर भी नहीं बनते

too bahate paani si hai…. har shakl mein dhal jaati hai,
main ret sa hoon… mujhase kachche ghar bhi nahin banate
शानदार शायरी, Shandar Shayari

Neend shandar shayari

Neend shandar shayari
नींद भी मोहब्बत बन गयी है
बेवफा रात भर नहीं आती

neend bhi mohabbat ban gayi hai
bewfa raat bhar nahin aati
शानदार शायरी, Shandar Shayari

Na peechey mud

Na peechey mud
ना पीछे मुड़ के तुम देखो ना आवाज़ दो मुझ को
बड़ी मुश्किल से सीखा है तुमको अलविदा कहना

na peechhe mud ke tum dekho na aavaaz do mujh ko
badi mushkil se seekha hai tumako alavida kahana
शानदार शायरी, Shandar Shayari