www.poetrytadka.com



Naya Saal Shayari aur Mubarak

Naya saal mubarak ho poem

झाड़ियों के उलझाव से

बाहर निकलने की कोशिश में

बैलों के गले में बँधी घंटियाँ बोल उठीं

नया साल मुबारक हो

बिगड़ी गाड़ी को

बड़ी देर से ठीक करने में जुटा मैकेनिक

गाड़ी के नीचे से उतान स्वरों में ही बोला

नया साल मुबारक हो

बरसों से मंगली लड़का ढूँढ़ते-ढूँढ़ते परेशान माँ-बाप को देख

नीबू के पत्ते की नोक पर ठिठकी

जनवरी की ओस ने कहा

नया साल मुबारक हो

कल बुलडोजर की आसानी के लिए

आज घर को चिह्नित करते कर्मचारी को देख

घर का छोटा बच्चा दूर से ही बोला पंचम में

नया साल मुबारक हो अंकल

नया साल मुबारक हो...

Bhool jaao

", पीछे दर्द, दुख, और उदासी को भूल जाओ

, हमें बड़ी मुस्कान के साथ इस नए साल का स्वागत करते हैं

आपको नया साल मुबारक हो!"Wish you Happy New Year!"

Ummeed e dil new year sad shayari

किस उम्मीद में बैठा है "ए दिल" 

कि तुझे भी कोई "नया साल मुबारक हो" ये कहेगा,,..

"अरे पागल" जिस के बारे में सोच रहा है, 

वो किसी ओर के "नये साल" की सुबह बन गई,,.

Naya saal sad shayari

एक और ईंट गिर गई दीवार-ए-जिंदगी से..!!

नादान कह रहे हैं, नया साल मुबारक हो..!!

Aapko zindagi ka naya saal mubarak

आप को ज़िन्दगी का नया साल मुबारक़ हो। नयी आशाएं और नयी चुनौतियां। इश्वर आप को ख़ुशी, कामयाबी अता करे और हमेशा अपनी हिफाज़त में रखे।