www.poetrytadka.com



मेरी अधूरी मोहब्बत

jee lo zindagi

jee lo zindagi

साथ रहते रहते यूहीं वक्त गुज़र जाएगा

दूर होने के बाद कौन किसे याद आएगा

जी लो ये पल जब हुम साथ है

कल का क्या पता, वक्त कहाँ ले जाएगा

yado ke silsile bnaae rakhna

yado ke silsile bnaae rakhna

यादो का सिससिला बनाए रखना 

दोस्तों से विश्वास बनाए रखना 

जान तो नहीं मागेंगे आप से 

गुजारिश है दोस्ती बनाए रकना 

mana hai tujhe dost

mana hai tujhe dost

प्यार से ज्यादा तुम्हे माना ऐ दोस्त 

खुद से ऊपर माना तुझे ऐ दोस्त 

खफा मत हो मेरे दोस्त मुझसे 

ज़िन्दगी जीने की वजह माना तुझे ऐ दोस्त 

fir bhi dosti dilo ko

fir bhi dosti dilo ko

दोस्ती में दूरियां तो आती जाती है 

फिर भी दोस्ती दिलो को मिला देती है 

वो दोस्त ही क्या जो नाराज ना हो 

पर सच्ची दोस्ती दोस्तों को मना लेती है 

hum nibhayenge dosti

hum nibhayenge dosti

हम निभाएंगे दोस्ती मरते दम तक 

हम तुमको चाहेंगे गम से ख़ुशी तक 

ऐ दोस्त हमसे कभी नाराज माँ होना 

साथ रहना है हमारे आखरी दम तक