www.poetrytadka.com



Maut Shayari

naam se badnam

naam se badnam

मौत सिर्फ नाम से बदनाम है वरना तकलीफ तो सिर्फ ज़िन्दगी ही देती है 

kisi ne khoob kha hai

kisi ne khoob kha hai

किसी ने खूब कहा है मौत से किस की यारी है आज मेरी तो कल तेरी बरी है

mohabbat me bewfai

mohabbat me bewfai

अगर दुनिया में जीने की चाहत ना होती 

तो खुदा ने मोहब्बत बनाई ना होती 

लोग मरने की आरज़ू ना करते 

अगर मोहब्बत में बेवफाई ना होती 

ek din jana hai

ek din jana hai

मौत तो सबको आनी है जो दुनिया में आया है उसे एक दिन जाना है