www.poetrytadka.com

Matlabi Shayari

Dil se tadpega hamare liye

Dil se tadpega hamare liye

जरूर एक दिन वो शख्स तड़पेगा हमारे लिए...
अभी तो खुशियाँ बहोत मिल रही है उसे मतलबी लोगो से.
Zaroor aik din wo sakhs tadpega hamare liye.
Abhi to khushiyan bahot mil rahi hai usey matlabi logon se.

सबसे बुरा तब लगता है जब मतलबी लोग,
आपके दिल में उतर जाते हैं ।
Sabse bura tab lagta hai jab matlabi 
log aapke dil me utar jate hain.

Kuch yun huaa

kuch yun huaa

कुछ यूँ हुआ कि.जब भी जरुरत पड़ी मुझे

हर शख्स इतेफाक से.मजबूर हो गया !!

Vzah to bta de

vzah to bta de

मुझको छोड़ने की वज़ह तो बतादे 

मुझसे नाराज़ थे या मुझ जैसे हजारो थे !!

Bhula denge

bhula denge

भुला देंगे तुम्हे भी जरा सब्र तो कीजिए 

आपकी तरह मतलबी होने में जरा वक्त लगेगा !!

Jha tum chale gaae ho

jha tum chale gaae ho

चिठ्ठी ना कोइ संदेस जाने वो कौन सा देस जहां तुम चले गए हो ! इस दिल पे लगा के ठेंस जाने वो कौन सा देस जहां तुम चले गए हो !!