Love Poetry in Hindi

Saturday 19th of October 2019
Are you looking Love Poems or Love Poetry in Hindi, love poetry in hindi for girlfriend, love poetry in hindi for boyfriend, love poetry in hindi lyrics, hindi love poems in english, romantic love poems for her in hindi, hindi love poems by famous poets, sad hindi love poems, heart touching love poems in hindi if yes then your are right place in here you can read a huge collection of Love Poems or Love Poetry in Hindi.

mushkurate hai to bizli si gira dete hai

मुस्कुराते हैं तो बिजली सी गिरा देते हैं !
बात करते हैं तो दीवाना बना देते हैं !
हुस्न वालों की नजर कयामत से कम नहीं !
आग पानी में भी नजरों से लगा देते हैं !!

Koi aur na le

तू मेरा है तेरा नाम कोई और न ले !
इन भीगती आँखों का जाम कोई और न ले !
कुछ इस लिए भी मैंने तेरा हाथ न छोड़ा !
तू गिर गया तो तुझे थाम कोई और न ले !!

Kabhi socha tumne

इश्क़ सेहरा है दरिया है कभी सोचा तुमने !
तुझसे क्या है मेरा नाता कभी सोचा तुमने !
हाँ मैं तनहा हूँ ये इक़रार भी करता हूँ !
मगर किसने किया है तनहा कभी सोचा तुमने !
ये अलग बात है मैंने जताया नहीं तुमको !
वरना कितना तुझको है चाहा कभी सोचा तुमने !
तुझे आवाज़ लिखा, फूल लिखा, प्यार भी लिखा !
मैंने क्या क्या लिखा कभी सोचा तुमने !
मुतमईन हूँ तुझे लफ़्ज़ों की हरारत देकर !
मैंने तुझे कितना सोचा कभी सोचा तुमने !!

Aur bus tum

एक आस एक एहसास मेरी सोंच और बस तुम !
एक सवाल एक मजाल तुम्हारा ख्याल और बस तुम !
एक बात एक शाम तुम्हारा साथ और बस तुम !
एक बात एक फ़रियाद तुम्हारी याद और बस तुम !
मेरा जुनून मेरा सुकून बस तुम... और बस तुम !!

Wo bhi ro dega

वो भी रो देगा उसे हाल सुनाएँ कैसे !
मोम का घर है चिरोगों को जलाएं कैसे !
दूर होता तो उसे ढूंढ लेते फ़राज़ !
रूह में छुप के बैठा है उसे पाएं कैसे !!

Koi tere jaisa na tha

तुझे भूल जाने का हौसला न था, न है, न होगा !
तू जुदा दूर रह का भी न था, न है, न होगा !
तुझसे मिलकर किसी और से क्या मिलना !
कोई तेरे जैसा न था, न है, न होगा !!

Hindi poetry beloved mother

जरा सी चोट लगे तो आंसू बहा देती है !
सुकून भरी गोद में हमको सुला देती है !
हम करते हैं खता तो चुटकी में भुला देती है !
गर होते हैं खफा हम तो दुनियां को भुला देती है !
मत करना गुस्ताखी उस मां से !
जो अपने बच्चों की चाह में अपने आप को भुला देती है !
हिंदी कविता प्यारी मां के नाम !!

Tumhe bahot yaad karte hain

दिया जब शाम की दहलीज़ पे जलता है !
जब रात को चांदनी फूलों पर पड़ती है !
उस रात को हम तेरा चेहरा तलाश करते हैं !
सुनो जाना हम तुम्हे बहुत याद करते हैं !!

khata unki bhi nahi hai

खता उनकी भी नही यारो वो भी क्या करते !
बहुत चाहने वाले थे किस - किस से वफ़ा करते !!