Love Poetry in Hindi

mushkurate hai to bizli si gira dete hai

मुस्कुराते हैं तो बिजली सी गिरा देते हैं !
बात करते हैं तो दीवाना बना देते हैं !
हुस्न वालों की नजर कयामत से कम नहीं !
आग पानी में भी नजरों से लगा देते हैं !!

Koi aur na le

तू मेरा है तेरा नाम कोई और न ले !
इन भीगती आँखों का जाम कोई और न ले !
कुछ इस लिए भी मैंने तेरा हाथ न छोड़ा !
तू गिर गया तो तुझे थाम कोई और न ले !!

Kabhi socha tumne

इश्क़ सेहरा है दरिया है कभी सोचा तुमने !
तुझसे क्या है मेरा नाता कभी सोचा तुमने !
हाँ मैं तनहा हूँ ये इक़रार भी करता हूँ !
मगर किसने किया है तनहा कभी सोचा तुमने !
ये अलग बात है मैंने जताया नहीं तुमको !
वरना कितना तुझको है चाहा कभी सोचा तुमने !
तुझे आवाज़ लिखा, फूल लिखा, प्यार भी लिखा !
मैंने क्या क्या लिखा कभी सोचा तुमने !
मुतमईन हूँ तुझे लफ़्ज़ों की हरारत देकर !
मैंने तुझे कितना सोचा कभी सोचा तुमने !!

Aur bus tum

एक आस एक एहसास मेरी सोंच और बस तुम !
एक सवाल एक मजाल तुम्हारा ख्याल और बस तुम !
एक बात एक शाम तुम्हारा साथ और बस तुम !
एक बात एक फ़रियाद तुम्हारी याद और बस तुम !
मेरा जुनून मेरा सुकून बस तुम... और बस तुम !!

Wo bhi ro dega

वो भी रो देगा उसे हाल सुनाएँ कैसे !
मोम का घर है चिरोगों को जलाएं कैसे !
दूर होता तो उसे ढूंढ लेते फ़राज़ !
रूह में छुप के बैठा है उसे पाएं कैसे !!

Koi tere jaisa na tha

तुझे भूल जाने का हौसला न था, न है, न होगा !
तू जुदा दूर रह का भी न था, न है, न होगा !
तुझसे मिलकर किसी और से क्या मिलना !
कोई तेरे जैसा न था, न है, न होगा !!

Hindi poetry beloved mother

जरा सी चोट लगे तो आंसू बहा देती है !
सुकून भरी गोद में हमको सुला देती है !
हम करते हैं खता तो चुटकी में भुला देती है !
गर होते हैं खफा हम तो दुनियां को भुला देती है !
मत करना गुस्ताखी उस मां से !
जो अपने बच्चों की चाह में अपने आप को भुला देती है !
हिंदी कविता प्यारी मां के नाम !!

Tumhe bahot yaad karte hain

दिया जब शाम की दहलीज़ पे जलता है !
जब रात को चांदनी फूलों पर पड़ती है !
उस रात को हम तेरा चेहरा तलाश करते हैं !
सुनो जाना हम तुम्हे बहुत याद करते हैं !!

khata unki bhi nahi hai

खता उनकी भी नही यारो वो भी क्या करते !
बहुत चाहने वाले थे किस - किस से वफ़ा करते !!