www.poetrytadka.com

Friendship Shayari

Last Updated

aaj phir se

तेरे संग हुई जो गुफ्तगु आज फ़िर से !
लगा जैसे.खोए हुए रास्ते फ़िर से हमें मिल गए !!

dost bnane se mile

दाग़ दुनिया ने दिए जख़्म ज़माने से मिले !
हम को तोहफे ये तुम्हें दोस्त बनाने से मिले !!

zindagi kab aakhri sans le kya pta

जिंदगी कब अपने आप को अंजाम देगी क्या पता !
जिंदगी कब आखरी सांस लेगी क्या पता !
सदा मिलते रहो एक दूसरे से यारों !
जिंदगी से कब आखरी मुलाकात होगी क्या पता !!

teri dosti pe naaz hai

ऐ दोस्त तेरी दोस्ती पर नाज़ हैं !
हर वक्त मिलने की फरीयाद करते हैं !
हमें नहीं पता घर वाले बताते हैं !
हम निंद में भी आपसे बात करते हैं !!

do pal bate kar liya karo

कभी हमसे भी पल दो पल बातें कर लिया करो !
क्या पता आज हम तरस रहे है कल आप तरस जाओ !!