www.poetrytadka.com

mandir maszid

संस्कार और संस्कृति की शान मिले ऐसे, हिन्दू मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले ऐसे हम मिलजुल के रहे ऐसे कि मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में राम बसे जैसे

desh-bhakti-mandir-maszid

hindu muslim

मैं मुस्लिम हूँ, तू हिन्दू है, हैं दोनों इंसान, ला मैं तेरी गीता पढ़ लूँ, तू पढ ले कुरान, अपने तो दिल में है दोस्त, बस एक ही अरमान, एक थाली में खाना खाये सारा हिन्दुस्तान

desh-bhakti-hindu-muslim

pyar karna hato desh se karo

तैरना है तो समंदर में तैरो नालों में क्या रखा हैं,

प्यार करना है तो देश से करो औरों में क्या रखा हैं

desh-bhakti-shayari-pyar