www.poetrytadka.com

Dard Bhari Shayari

Ek pal bhi nahi

ek pal bhi nahi

तुमसे बात किये बिना ज़िन्दगी भर रह सकते है 

लेकिन तुम्हे याद किये बिना एक पल भी नही

Pyar ka jhutha wada

pyar ka jhutha wada

ना करना हमसे प्यार का फिर झुठा वादा. 

माँगी है आज दुआ के तुझे भुल जाएँ हम 

Mohabbat bhi

मोहब्बत भी ,शरारत भी, शराफ़त भी, इबादत भी,

बहोत कुछ करके देखा फ़िर भी हम तेरे न हो पाये 

Dard bhari dosti shayari

dard bhari dosti shayari

dard bhari dosti shayari

Tere gam ko

tere gam ko

तेरे गम को अपनी रूह में उतार लूँ 

ज़िन्दगी तेरी चाहत में सवार लूँ

मुलाकात हो तुझ से कुछ इस तरह 

तमाम उम्र बस एक मुलाकात में गुजार लूँ