www.poetrytadka.com



Dard Bhari Shayari

jism se hone wali mohabbat

jism se hone wali mohabbat
दर्द की शाम हो या सुख का सवेरा हो ,
सब गवार है मुझे साथ बस तुम्हारा हो।
Dard kee shaam ho ya sukh ka savera ho,
sab gavaar hai mujhe saath bas tumhaara ho.

तुमने तो कहा था हर शाम तेरा हाल पूछा करेंगे,
तुम बदल गए हो या तुम्हारे शहर में शाम नहीं होती।
Tumane to kaha tha har shaam tera haal poochha karenge,
tum badal gae ho ya tumhaare shahar mein shaam nahin hotee.

ab wo bhi

ab wo bhi
बहोत दर्द छुपे हैं रात के हर पहलू में,
अच्छा हो के कुछ देर के लिए नींद आ जाये।
Bahot Dard chhupe hain raat ke har pahaloo mein,
achchha ho ke kuchh der ke lie neend aa jaaye.

अगर खुश है तो मुझसे दूर रहकर,
तो खुदा करे तु मुझसे कभी न मिले।
Agar khush hai to mujhase door rahakar,
to khuda kare tu mujhase kabhee na mile.

sacha rishta

sacha rishta
मुझे मालूम है मोहसिन वो मेरा हो नहीं सकता,
मगर देखो मुझे फिर भी मोहब्बत हो गई उससे।
Mujhe maaloom hai mohasin vo mera ho nahin sakata,
magar dekho mujhe phir bhee mohabbat ho gaee usase.

फिर यूं हुआ की सब्र की ऊँगली पकड़कर हम,
इतना चले की रास्ते हैरान रह गए।
Phir yoon hua kee sabr kee oongalee pakadakar ham,
itana chale kee raaste hairaan rah gae.

dard bhari shayari download

dard bhari shayari download
गलती हुई की उसे जान से भी ज्यादा चाहने लगे,
क्या पता थी की मेरी इतनी वफ़ा उसे बेवफा कर देगी।
Galatee huee kee use jaan se bhee jyaada chaahane lage,
kya pata thee kee meree itanee vafa use bevapha kar degee.

तूने दिए है वो दर्द ही सही,
तुझसे मिला है तो इनाम है मेरा।
Toone die hai vo Dard hee sahee,
tujhase mila hai to inaam hai mera.

Dard bhari shayari in hindi for love

Dard bhari shayari in hindi for love

उनको लगता है की मुझको दर्द नहीं होता,
खैर, अब बात को क्या बढ़ाना नहीं होता, नहीं होता।
unako lagata hai kee mujhako Dard nahin hota
khair, ab baat ko kya badhaana nahin hota, nahin hota.

खामोशियाँ कर दें बयां तो अलग बात है,
कुछ दर्द है ऐसे जो लफ़्ज़ों में उतारे नहीं जाते।
khaamoshiyaan kar den bayaan to alag baat hai,
kuchh Dard hai aise jo lafzon mein utaare nahin jaate.