www.poetrytadka.com

Bharosa Shayari

Gahra bharosa

प्यार गहरा हो या ना हो पर भरोसा गहरा होना चाहिये...

 

Sachchi mohabbat

सच्ची मोहब्बत भी हम करते है,

वफ़ा भी हम करते है,

भरोसा भी हम करते है,

और आखिर में तन्हा जीने

की सजा भी हमे ही मिलती है,

 

Naseeb se zeyada

नसीब से ज्यादा भरोसा "पगली"तुम पर किया,

..फिर भी...

नसीब इतना नहीं बदला जितना तुम बदल गयी...

 

Bahot khamooshi

बहुत ख़ामोशी से टूट गया...

वो एक भरोसा जो उस पे था.!!!!

 

Mujhey khamoosh

मुझे खामोश देखकर इतना हैरान क्यों होते हो दोस्तों....

कुछ नहीं हुवा है बस भरोसा कर के धोखा खाया है....

 

सबसे बेस्ट शायरी Click Here