www.poetrytadka.com

Guest Posting

Now you are poetry tadka guest posting page. And now we are alowing to guest post for any website. If you are interested please contact us at [email protected]

Udne de parindo ko

उड़ने दे इन परिंदो को आजाद फिजा में ग़ालिब जो तेरे आपने होंगे वो लौट आएंगे

Wo guzar gaya

मैं ठहर गई वो गुज़र गया, 

वो क्या गुज़रा सब ठहर गया

Tum dil me nahi

तुम दिल नही रूह मे उतर गये हो जनाब

तुम्हे भुलने मे दिन नही ज़माने लगेगे.

 

Bas yahi

आंखों में ठहर गया थोड़ा-सा पानी.

बस यही दी थी उसने मुझे आखिरी निशानी

Mujhse kahne

कास के वो लोट आये मुझसे ये कहने

की तुम कोन होते हो मुझसे बिछड़ने वाले

सबसे बेस्ट शायरी Click Here