www.poetrytadka.com

Beautiful Shayari

Dil se apnaya

dil se apnaya

दिल से अपनाया न उसने..ग़ैर भी समझा नहीं..

ये भी एक रिश्ता है..जिसमें कोई भी रिश्ता नहीं.

Aaj kal

aaj kal

आजकल नाराज़ है जरा मेरा मन मुझसे

वरना ज़माने से गिला तो ना कल था ना अब है 

Lagta hai

lagta hai

लगता है मेरी नींद का किसी के साथ चक्कर चल रहा है,

सारी सारी रात गायब रहती है