www.poetrytadka.com

Aansu Shayari

Pagli teri mohabbat ne

पगली तेरी मोहब्बत ने मेरा यह हाल कर दिया है !
मैँ नही रोता लोग मुझे देख के रोते है !!

Jo mera tha wo mera ho nahi paya

जो मेरा था वो मेरा हो नहीं पाया !
आँखों में आंसू भरे थे पर मैं रो नहीं पाया !!

Rokne ki koshish

रोकने की कोशिश तो बहुत की पलकों ने !
पर इश्क में पागल थे आंसू खुदकुशी करते रहे !!

Mushkurane ka hunar

लगता है भूल चूका हूँ, मुस्कुराने का हुनर !
कोशिश जब भी करता हूँ, आंसू निकल ही आते है !!

Tum aankh ki barsat

तुम आँख कि बरसात बचाए हुए रखना !
कुछ लोग अभी....आग लगाना नही भुले !!