www.poetrytadka.com



Two Lines shayari

teri aankhe jo bol jati hai

तेरी आँखे जो बोल जाती है तेरी साँसे जब गुनगुनाती है !
तब मेरी हर हसरत एक नया रूप पाती है !!

yaad rahte hai aaj bhi

याद रखते है हम आज भी उन्हें पहले की तरह !
कौन कहता है फासले मोहब्बत की याद मिटा देते है !!

kosish to hoti hai

कोशिश तो होती है कि तेरी हर ख्वाहिश पूरी करूँ !
पर डर लगता है के तु.ख्वाहिश में मुझसे जुदाई ना माँग ले !!

yu to hum apne aap me gum the

यूँ तो हम अपने आप में गुम थे !
सच तो ये है की वहाँ भी तुम थे !!

tum ye mat samajhna

तुम ये मत समझना की मुझे कोई नहीं चाहता !
तुम छोड़ भी दोगे तो..मौत खड़ी है अपनाने के लिए !!