www.poetrytadka.com

Sad Urdu Shayari

Sad Urdu Shayari
किस सिम्त से आओगे इतना तो बता दो
मैं आज से रख दूँ उस राह पर आँखें
kis simt se aaoge itana to bata do
main aaj se rakh doon us raah par aankhen

थोड़ा इंतज़ार ही कर लेते
मेरे दिन बुरे थे दिल नहीं
thoda intazaar hee kar lete
mere din bure the dil nahin