www.poetrytadka.com

sab garib kahte hai

sab garib kahte hai

एक मुनाफा तो हुआ इस बेबसी का !
कोई मजहब मे नही बाँटता सब "गरीब" कहते हैं !!