www.poetrytadka.com

reshte nibhana har kisi

रिश्ते निभाना हर किसी के बस की बात नही !
अपना दिल दुखाना पड़ता है किसी और की खुशी के लिये !!

हिन्दी शायरी