www.poetrytadka.com

naa jane kon si baat aakhri hogi

ना जाने कौन सी बात आखरी होगी !
ना जाने कौन सी रात आखरी होगी !
करनी हैं तो कर लो जी भरकर बाते !
ना जाने हमारी कौन सी सास आखरी होगी !!