Matlabi Log Shayari

matlabi log shayari

इस मतलब की दुनिया में कौन किसी का होता है
वही दोस्त धोखा देते हैं जिनपर भरोसा ज़यादह होता है
is matalab kee duniya mein kaun kisee ka hota hai
vahee dost dhokha dete hain jinapar bharosa zayaadah hota hai

मतलब न पूरे होने पर लोग
लहज़े बदल लेते हैं
matalab na poore hone par log
lahaze badal lete hain