www.poetrytadka.com

halat ne peesa hai

सुरमे की तरह मुझको हालात ने पीसा है !
तब जाके चढ़ा हूँ मैं लोगों की निगाहों में !!