www.poetrytadka.com

Gujar jaounga

गुज़र जाऊँगा यूँ ही किसी लम्हे सा.

और तुम वक़्त में उलझी रहना

Gujar jaounga