www.poetrytadka.com

Good Night Sad Shayari

रोती रही मै रात भर पर फैसला न कर सकी,
तू याद आ रहा या मैं याद कर रही।
Roti rahi mai raat bhar par phaisala na kar saki, 
too yaad aa raha ya main yaad kar rahi. 

रात तो वक़्त की पाबंद है ढल जाएगी,
देखना ये है चरागों का सफर कितना है।
Raat to Waqt ki paaband hai dhal jaegi, 
dekhana ye hai charaagon ka safar kitna hai.

यूँ खाली पलकें झुका देने से नींद नही आती | 
सोते वही लोग है जिनके पास किसी की यादें नहीं होती।
You khali palken jhuka dene se neend nahin aati.
Sote wahi log hain jinke pas kisi ki yaden nahin hoti.

Good Night Sad Shayari