www.poetrytadka.com

duniya ke sath

मैं एक हाथ से सारी दुनिया के साथ ‪‎लड़‬ सकती हुं !
बस मेरा दुसरा ‪‎हाथ‬ तेरे हाथ मैं होना चाहिए !!