www.poetrytadka.com

doori rahgai

ख़ुदा की बंदगी शायद अधूरी रह गई !
तभी तो तेरे मेरे दरमियां ये दुरी रह गई !!