www.poetrytadka.com

chalo accha huaa

चलो अच्छा हुआ काम आ गयी दिवानगी अपनी !
वरना हम जमाने भर को समझाने कहां जाते !!

हिन्दी शायरी