www.poetrytadka.com

badi khamushi se toot gya

बड़ी ही खामोशी से टूट गया ! वो विश्वास जो सिर्फ तुम पर था !!