www.poetrytadka.com

Afsos ki shayari

मैं फना हो गया अफसोस वो बदला भी नहीं
मेरी चाहतों से भी सच्ची रही नफरत उसकी