shayari sangrah


shayari sangrah dard shayari

shayari sangrah dard

हुस्न वाले जब तोड़ते हैं दिल किसी का,

बड़ी सादगी से कहते है #मजबूर थे हम

shayari sangrah bewfai

shayari sangrah bewfai

तेरे हुस्न पर तारीफ भरी किताब लिख देता

काश के तेरी वफ़ा तेरे हुस्न के बराबर होती

sad shayari sangrah

sad shayari sangrah

गुरुर-ए-हुस्न की मदहोशी में, उनको ये भी नहीं खबर

कौन चाहेगा सिवा मेरे, उनको उम्र ढल जाने के बाद

love shayari sangrah

love shayari sangrah

दिल्लगी नहीं शायरी जो किसी हुस्न पर बर्बाद करें

यह तो एक शमा है जो उस नूर का पयाम है.

loading...
bewfai shayari sangrah

bewfai shayari sangrah

हुस्न पर जब भी मस्ती छाती है,तब शायरी पर बहार आती है

पीके महबूब के बदन की शराब, जिंदगी झूम-झूम जाती है 

download shayari sangrah images

Download Shayari Sangrah Images

जो फुर्सत मिले तो मुड़कर देख लेना मुझे एक दफ़ा

तेरे हुस्न से घायल होने की चाहत मुझे आज भी है 

images shayari sangrah hindi

images shayari sangrah hindi

आँखों में दोस्तो जो पानी है हुस्न वालों की ये मेहरबानी है

आप क्यों सर झुकाए बैठे हैं क्या आपकी भी यही कहानी है

images shayri sangrah

images shayri sangrah

तुम मेरे पास रहे ये जरूरी तो नहीं 

बस जहा भी रहो मेरा ही रहना 

facebook shayari sangrah

facebook shayari sangrah

ना रहेगा निशान, जहां तू कभी मौजूद था

मानो जैसे तेरी ना कोई हस्ती थी, ना ही कोई वजूद था

shayari sangrah facebook shayari

shayari sangrah facebook shayari

अपने हो जाते है पराए एक पल में

आज तू हक़िक़त है, समा जाएगा तेरा नाम भी कल मे

loading...