हौसला बढ़ाने वाली शायरी

hosla shayari, हौसला बढ़ाने वाली शायरी, हौसला बुलंद शायरी
es duniya me ajnabi

es duniya me ajnabi

मजबूरियाँ होती है, यक़ीन जाता है
बचपन का प्यार अक्सर तजुर्बे दे जाता है

meri galti shayari

meri galti shayari

चाहता कौन है बेवफ़ायी करना उसने परिवार सम्भाला होगा
यही सोच कर समझाता हूँ ख़ुदको
मजबूर होकर मुझे दिल से निकाला होगा

kamal karta hai

kamal karta hai

ऐ उदास पल जरा धीरे धीरे चल
तू भी चला गया तो कैसे पाउँगा संभल

hosla bdane wali shayari mohabbat aise karo

mohabbat aise karo

खामोशियाँ कर दे बयाँ तो अलग बात है
कुछ दर्द एसे भी है जो लफ्जों में उतारे नहीं जाते

kamyabi ka junoon

kamyabi ka junoon

उसूल तो हमारे भी बहुत थे
मगर वो ज़माने को नागवार गुज़रे

hosla bdane wali shayari priwar ko pala

priwar ko pala

लहू बेच बेच जिसने परिवार को पाला
वो भूखा ही सो गया जब बच्चे कमाने वाले हो गये

duniya ka sabse bada amir aadmi

duniya ka sabse bada amir aadmi

संसार में सबसे बड़ा आदमी वही कहलाता है , जिससे मिलने के बाद कोई इन्सान खुद को छोटा महसूस ना करे

kal ka din kisne dekha

kal ka din kisne dekha

कल का दिन किसने देखा है आज का दिन भी खोए क्यों, जिस घड़ियों में हस सकते है उस घडियों में रोए क्यों

izzat aur tareef

izzat aur tareef

इज्ज़त और तारीफ मांगी नही कमाई जाती है

apna muly samjho

apna muly samjho

अपना मूल्य समझो और विश्वास करो की आप संसार के सबसे महत्वपूर्ण वयक्ति हो