koi nahi tha

कोई नहीं था और ना ही कोई होगा
तुमसे करीब मेरे दिल के तुम ही रहोगे

from शायरी संसार


loading...
loading...